منحنى الطلب: مع الرسم البياني | الهندية | السلع | اقتصاديات

اقرأ هذه المقالة باللغة الهندية للتعرف على الأسباب الرئيسية للاختلافات في منحنى الطلب ، بمساعدة المخططات المناسبة.

(A) माँग का विस्तार अथवा संकुचन (تمديد أو انكماش الطلب):

जब माँग में परिवर्तन केवल कीमत में के कारण होता होता तब ये परिवर्तन एक एक माँग माँग वक्र वक्र वक्र वक्र वक्र घटित घटित।।। ention प्रकार के परिवर्तन माँग का (تمديد الطلب) संकुचन माँग का संकुचन (تقلص الطلب) उत्पन्न करते हैं।

'अन्य बातों के समान रहने पर किसी वस्तु की कीमत कमी के कारण उत्पन्न में वृद्धि को को को को तथा तथा तथा तथा तथा तथा तथा तथा वस्तु की की की की की की की की कमी कमी कमी।।।। हैं।।।।।।।

यहाँ एक बात स्मरणीय है कि माँग का एवं एवं माँग माँग का संकुचन एक एक ही माँग माँग माँग वक्र वक्र पर उपस्थित हैं।।

चित्र 8 में 'माँग का विस्तार' एवं 'माँग का संकुचन' दिखाया गया है। Q वस्तु कीमत PQ है। 1 कीमत PQ से बढ़कर P 1 Q 1 हो जाती है तब वस्तु की माँग OQ से घटकर OQ 1 रह जाती है। Q से Q 1 की अवस्था 'माँग के संकुचन' (تقلص الطلب) को प्रदर्शित कर कर रही।।

Q प्रकार वस्तु की जब Q PQ से घटकर P 2 Q 2 रह जाती है है तब माँग Q OQ से बढ़कर OQ 2 हो जाती है। Q से Q 2 तक गमन 'माँग के विस्तार' (تمديد الطلب) को सूचित करता है। वक्र विश्लेषण से स्पष्ट है कि माँग विस्तार एवं माँग माँग का दोनों एक एक एक वक्र वक्र वक्र वक्र वक्र वक्र वक्र वक्र वक्र वक्र वक्र वक्र वक्र वक्र वक्र

(ب) माँग में वृद्धि अथवा कमी (زيادة أو نقصان في الطلب):

अथवा

Sh वक्र का खिसकाव ( تحول منحنى الطلب):

Inc वस्तु की की में परिवर्तन परिवर्तन न अन्य तत्वों प्रभाव प्रभाव के कारण कीमत कीमत हुए हुए माँग माँग में में परिवर्तन परिवर्तन है में में वृद्धि वृद्धि वृद्धि वृद्धि वृद्धि वृद्धि वृद्धि वृद्धि वृद्धि (in में माँग में वृद्धि वृद्धि वृद्धि वृद्धि वृद्धि वृद्धि वृद्धि वृद्धि वृद्धि वृद्धि वृद्धि वृद्धि वृद्धि वृद्धि वृद्धि वृद्धि वृद्धि में में में में में वृद्धि वृद्धि Inc rease वृद्धि Inc Inc rease Inc rease Inc

है तत्वों के कारण माँग में वृद्धि अथवा कमी हो सकती है:

أنا. उपभोक्ता की आय में परिवर्तन ؛

ثانيا. वस्तु की उपयोगिता में परिवर्तन ؛

ثالثا. सम्बन्धित वस्तुओं की कीमतों में परिवर्तन ؛

د. रुचि، फैशन आदि में परिवर्तन؛

v. भविष्य में कीमत परिवर्तन की आशंका।

माँग में वृद्धि अथवा कमी एक ही वक्र पर नहीं बल्कि बल्कि माँग में की दशा दशा में माँग वक्र वक्र है है है है है और और और और और और और और और और और और और और और और और और और और और।।।।।।।।।।।।

चित्र स्थिति को चित्र 9 में प्रदर्शित किया गया है।

चित्र 9 के खण्ड A में माँग की वृद्धि को खण्ड B खण्ड माँग की की को को गया है। दोनों ही स्थितियों में वस्तु कीमत स्थिर रहते भी माँग माँग की क्रमशः बढ़ बढ़ एवं घट है।। चित्र A में Q से Q 1 तक प्रस्थान 'माँग में वृद्धि को बताता बताता चित्र में B चित्र Q से Q 2 तक गमन' तक में कमी को।।

 

ترك تعليقك